आर्य वीरांगना दल जम्मू कश्मीर

0
212

सुकृति चौधरी संचालिका आर्य वीरांगना दल जम्मू कश्मीर के नेतृत्व में आठ दिवसीय संस्कार निर्माण एवं आत्म सुरक्षा प्रशिक्षण शिविर 25 दिसम्बर 2023 से 01 जनवरी 2023 तक वैदिक वानप्रस्थ आश्रम गढ़ी उधमपुर में आयोजित किया गया जिसमें 100 से अधिक कन्याओं ने भाग लिया।

शिविर में कन्यायों को राष्ट्रभक्ति, ईश्वर भक्ति, वीरता, शौर्य, साहस, देश प्रेम, स्वाभिमान, आत्मा विश्वास, आत्मा निर्भरता एवं सेवा जैसे संस्कार दिए गए। शिविर में यज्ञ, योग, ध्यान के साथ साथ कन्यायों में लाठी चलाना, बन्दूक चलाना, तलवार चलाना, स्तूप बनाना, टाइल तोड़ना, जूडो कराटे आदि हृदय को रोमांचित करने वाले अभ्यास सीखाए गए एवं कन्याओं को आर्य वीरांगना बनाने का पूर्ण प्रयास किया गया।

इस शिविर में सहयोग के लिए आर्य वीरांगना दल की कार्यकारिणी की सदस्याएँ मन्त्रिणी अर्पणा सेठी, उप मन्त्रिणी मोनिका, कोशाध्यक्षा सीमा गुप्ता, मुख्य संरक्षिका प्रतिभा पुरंधि, संरक्षिका डाः अरुणा भगौत्रा, प्रचार मन्त्रणि रीतू शास्त्री एवं मन्त्रणि स्त्री समाज सुनीता गुप्ता शामिल रहे। आर्य वीरांगनाओं को अध्यात्मिक एवं व्यवहारिक ज्ञान देने हेतु आचार्य आशीष जी दर्शनाचार्य जीन्द हरियाणा से पधारे तथा संस्कार एवं आत्म सुरक्षा प्रशिक्षण प्रदान करने हेतु दिल्ली से पधारे आचार्य सत्यम जी एवं अभिलाषा जी का विशेष योगदान रहा।

इस शिविर का मुख्यतः संचालन आर्य प्रतिनिधि सभा जम्मू कश्मीर के प्रधान अरुण चौधरी जी के नेतृत्व में हुआ। इस शिविर के समापन समारोह की अध्यक्षता श्रीमती सोनिया गुप्ता प्रिंसिपल सेशन जज जम्मू कश्मीर द्वारा की गई।

शिविर में आर्य वीरांगनाओं द्वारा आठ दिनों में प्रशीक्षण प्राप्त विविद प्रकार के शारीरिक कला- कौशल का शानदार प्रदर्शन किया गया। शिविर के समापन पर उत्तीर्ण वीरांगनाओं में इनाम बाँटे गए एवं ऋषि लंगर भी लगाया गया।

इसे भी पढ़ें।

जगन्नाथ स्कूल ऋषभ तीर्थ में पांच दिवसीय आर्य वीरांगना दल प्रशिक्षण शिविर संपन्न

आर्य वीर दल प्रशिक्षण शिविर समापन समारोह टांगरपाली उड़ीसा

आर्य वीर दल प्रशिक्षण शिविर देगलूर महाराष्ट्र

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here