जागो तो एक बार जागो

0
46
जागो तो एक बार जागो जागो तो ।।

जागे शंकर दयानन्द जागे, नास्तिक मत पाखण्डी भागे ।

हुआ वेद का जय जयकार ।। १ ।।

जागे थे प्रताप शिवाजी, जीत गए मुगलों से बाजी।

रुक गए अत्याचार ।।२।।

जागे थे गुरु गोविन्द प्यारे, देश पे चारों बच्चे वारे ।

वार दिया परिवार ।।३।।

तुम समय की रेत पर 👇 https://aryaveerdal.in/tum-samay-ki-ret-par/

जागी थी झाँसी की रानी, इकली थी पर हार न मानी।

चमक उठी तलवार ।।४।।

जागे थे भगतसिंह प्यारे, असेम्बली में लग गए नारे।।

हुआ बम का धुंआधार ।।५।।

सुभाषचन्द्र नेताजी जागे, अंग्रेजों के छक्के छुड़ा गए।

काँप उठी सरकार ।। ६ ।।

आर्य वीरों जगो जगाओ, ऊँच नीच का भेद मिटाओ।

करो देश उद्धार ।।७।।

अन्नायी से लड़ना दिखो👇 https://aryaveerdal.in/annayi-se-ladna-sikho/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here