चेतना जगाओ आप

0
45

उठो जवानों 👇 https://aryaveerdal.in/utho-jawano/

चेतना है जग में तो, चेतना जगाओ आप ।

चेतना के बिना साथ देता कौन जग में।

ध्रुव जैसा सत्य है, असत्य ना समझ मीत।

क्रान्ति का पथ त्याग, चेता कौन यहाँ जग में ।। १ ।।

जल करके दीप देता, औरों को प्रकाश सदा ।

बुझने वालों का नाम लेता कौन जग में।।२।।

आर्यवीर नौजवानों तेज को सम्भालो उठो ।

भीष्म कहे आप सा विजेता कौन जग में ।।३।।

धरती की शान 👇 https://aryaveerdal.in/dharti-ki-shan/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here