आर्य वीर दल का प्रभाव नेपाल क्षेत्र

0
48

आर्य वीर दल का प्रभाव नेपाल की रिपोर्ट2018 में पतंजलि योगपीठ हरिद्वार में स्वामी देवव्रत जी के नेतृत्व में 1000 युवाओं के लिए शिविर का आयोजन किया गया था। जिसमें आर्य वीर दल के व्यायाम शिक्षकों के द्वारा प्रशिक्षण दिया गया ।उसी शिविर में नेपाल के मोहन जी पांडे जो कि वर्तमान में मनरा नगर पालिका के चेयरमैन है, उनसे श्री सत्यम जी आर्य व्यायाम शिक्षक का संपर्क हुआ।

2019 में मोहन जी पांडे ने श्री सत्यम जी को नेपाल में आर्य वीर दल के शिविर के लिए आमंत्रित किया ,यहां जनकपुर राजधानी में 300 आर्य वीरों का आवासीय शिविर लगाया गया। उस शिविर से प्रभावित होकर के फिर एक 150 आर्य वीरों का आवासीय शिविर और साथ में गायत्री महायज्ञ का आयोजन किया गया । इस वर्ष 2022 अक्टूबर माह में यहां चतुर्वेद पारायण यज्ञ, आर्य वीर दल का शिविर एवं श्री राम कथा का आयोजन किया गया।

शिविर में लगभग 200 आर्य वीर एवं वीरांगना ने भाग लिया ,जिनको श्री सत्यम जी व श्री मती अभिलाषा जी ने प्रशिक्षण दिया । संगीतमय श्री राम कथा मेरे द्वारा की गई। यहां आपको यह जानकारी दी जाती है कि इस क्षेत्र में एक भी व्यक्ति आर्य समाज से जुड़ा हुआ नहीं है ,इसके बावजूद वर्तमान में यहां आर्य समाज का एवं आर्य वीर दल का काम बहुत तेजी से हुआ है और यहां के लोग चाहते हैं इस प्रकार के कार्यक्रम हमारे यहां अलग-अलग क्षेत्रों में होते रहे।

यहां के कार्यकर्ताओं की आगामी योजनाएं हैं- जनकपुर में एक कन्या गुरुकुल खोलना, अप्रैल महीने में 500 वीरों का आवासीय शिविर आयोजित करना एवं जनकपुर राजधानी में श्री राम कथा का आयोजन करना।

इसे भी पढ़ें।

डीएवी ग्रुप ऑफ स्कूल द्वारा आयोजित किया गया आर्य वीर दल शिविर चेन्नई

आर्य वीर दल प्रशिक्षण शिविर बयाना भरतपुर राजस्थान

हमारे नेपाल प्रवास का यह प्रभाव रहा कि यहां आस-पास के कई गांव हमसे जुड़े हमारे यहां जो आर्य वीर दल का शिविर लगाया और श्री राम कथा की इससे लोगों को वैदिक संस्कृति का ज्ञान हुआ एवं आर्य वीर दल एवं आर्य समाज से लोगों का परिचय हुआ मैं समझता हूं आगामी समय में यहां आर्य समाज के क्षेत्र में बहुत बड़ा कार्य होगा यहां के लोग सीधे सरल स्वभाव के एवं हिंदू धर्म के प्रति आस्थावान हैं।

लोगों में धर्म के प्रति आस्था है, विश्वास है ।लगातार चले 9 दिन के इस कार्यक्रम में आगे की बहुत बड़ी संभावनाएं वैदिक संस्कृति के प्रचार-प्रसार हेतु हमें दिखाई दे रही है । एक आर्य वीर दल का व्यायाम शिक्षक अपने प्रभाव से, व्यवहार से, सुदूर क्षेत्र में भी कितना बड़ा कार्य कर सकता है यह श्री सत्यम जी व श्री मती अभिलाषा जी ने यहां हम सबको एक प्रेरणा देने का कार्य किया है कि जिस क्षेत्र में एक भी आर्य समाज को मानने वाला व्यक्ति नहीं हो ,वहां प्रतिवर्ष आर्य वीर दल एवं आर्य समाज के कार्यक्रम हो रहे हो तो यह आर्य वीर दल का ही प्रभाव माना जाएगा।

इसे भी पढ़ें।

10 दिवसीय आर्य वीर दल प्रशिक्षण शाखा

आर्य वीर दल गुरुग्राम में वीर पर्व बड़ी ही धूम धाम से मनाया गया

इसलिए आर्य वीर दल का प्रत्येक कार्यक्रम ,प्रत्येक शिविर आर्य समाज की नींव मजबूत करने का कार्य करता है । मैं प्रत्येक आर्य समाज से जुड़े हुए व्यक्ति से निवेदन करना चाहूंगा कि वह अपने क्षेत्र में आर्य वीर दल के शिक्षकों के द्वारा कार्यक्रम आयोजित कराएं जिससे कि आपके क्षेत्र में भी आर्य समाज का काम ,वैदिक संस्कृति का कार्य तेजी से बढ़ सके।

धन्यवाद

भवदीय

भवदेव शास्त्री

वीडियो देखने के लिए क्लिक करें।

https://youtu.be/s1Ug4wZ_RVc

इसे भी पढ़ें।

मुरादाबाद में आर्य वीर महासम्मेलन में नशामुक्ति पर बोले- योग गुरु बाबा रामदेव

आर्य वीर दल सदस्यता अभियान कुछ सुझाव

आर्य वीर दल प्रशिक्षण शिविर रोजड़ गुजरात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here