यह ओ३म का झंडा आता है

0
38

ध्वजगान

यह ओ ३ म् का झण्डा आता है , ऐ सोने वालो ! जाग चलो

लेकर उगते रवि की लाली , ले नित्य बसन्ती हरियाली ।

यह ले – ले लहरें आता है , धरती के जागे भाग चलो।।१ ।।

 

जब गोली गोले बरसेंगे , और सिर कट – कट कर सरसेंगे ।

हम मौत के भीषण आँगन में , हँस – हँस खेलेंगे फाग चलो।। २ ।।

 

पर्वत से कह दो नम जाए , सागर से कह दो थम जाए ।

यह एक बनाने दुनिया को , उमड़ा है अनुराग चलो । || ३ ||

 

अब प्रेम सच्चाई विद्या का यह झण्डा लहराया बाँका ।

हिंसा पाखण्ड अविद्या से कह दो कि अब तुम भाग चलो ।। ४ || 

 

 

आर्य वीर दल ध्वज गान

 

राष्ट्रगान आ ब्रह्मन् ब्राह्मणो ब्रह्मवर्चसी जायताम् ।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here