वैदिक संस्कार एवं चरित्र निर्माण शिविर होशंगाबाद

0
160

स्वामी ऋतस्पति धर्मार्थ न्यास द्वारा महर्षि दयानंद सरस्वती जी के 200 वे जन्मोत्सव के उपलक्ष्य पर 200 छात्रों एवं नव युवकों के सर्वांगीण विकास हेतु आयोजित

वैदिक संस्कार एवं चरित्र निर्माण शिविर

(आर्य वीर दल प्रशिक्षण शिविर)

दिनांक – 10 जून से 18 जून 2023 तक

आर्ष गुरुकुल महाविद्यालय नर्मदापुरम् (म.प्र.) –

इस शिविर में शिविरार्थियों को शारीरिक, मानसिक व आध्यात्मिक उन्नति हेतु योग आसन, प्राणायाम, ध्यान, जडो-कराटे, मलखब, स्तुप, लाठी चालन आदि का प्रशिक्षण दिया जायेगा। साथ ही बौद्धिक उन्नति हेतु वैदिक सिद्धांतों का परिजान कराया जावेगा। इस सुनहरे अवसर का लाभ उठाए और अपने बालकों को शिविर में अवश्य भेजें।

शिविर में भाग लेने हेतु आवश्यक नियम –

(1) शिविरार्थी 9 जून को सायं 5:00 बजे तक शिविर स्थल पर अवश्य पहुंच जाये शिविर समापन 18 जून को मध्यान्ह लगभग 1:00 बजे होगा।

(2) शिविरार्थी की आयु 12 से 25 वर्ष हो, वह अनुशासनप्रिय, निर्व्यसनी, शाकाहारी, चरित्रवान, स्वस्थ हो।

(3) शिविरार्थियों के लिए शिविर शुल्क ₹500 देना होगा जो शिविरार्थी आर्थिक कठिनाई के कारण शुल्क देने में असमर्थ हो तो आवेदन करने पर योग्य जानकर शुल्क में आंशिक या पूर्ण छूट दी जा सकती है।

(4) आवश्यक सामान- ग्रीष्म ऋतु योग्य हल्का बिस्तर, भोजन के पात्र, टॉर्च, कॉपी, पेन, ढीले हल्के कपड़े, हाफ पैंट, हाफ शर्ट, सैंडो बनियान, जूते, मौजे, लाठी व अपनी नित्य उपयोगी की वस्तुएं॥

बौद्धिक ।।

पूज्य स्वामी ऋतस्पति जी, आचार्य सत्यसिन्धु जी श्रीयुत प्रकाश आर्य जी, आचार्य योगेन्द्र याज्ञिक जी आ. धुरंधर जी, आ. अविनाश जी, ब्र. मोहन जी पं. धीरेन्द्र पाण्डेय जी एवं अन्य विद्वत्जन||

मुख्य प्रशिक्षक –

।श्री भैरव सिंह जी, आचार्य दीपक जी श्री रघुवीर जी, आर्य रुपसिंह जी आर्य भगवान सिंह जी, आर्य सुरेन्द्र कुमार जी आर्य राजकुमार जी, आचार्य सत्यप्रिय जी

सूचना- आर्य गुरुकुल महाविद्यालय नर्मदापुरम् होशंगाबाद में वर्ष 2023-24 में प्रवेश लेने हेतु छात्रों को इस शिविर में भाग लेना अनिवार्य होगा, इसी शिविर के दौरान उनका परीक्षण किया जावेगा

इन खबरों को भी पढ़ें।

आर्यवीर वीरांगना दल प्रशिक्षण शिविर अजमेर

आर्य वीर दल प्रशिक्षण शिविर वानप्रस्थ साधक आश्रम रोजड़

आर्य वीर दल प्रशिक्षण ग्रीष्मकालीन शिविर अहमदाबाद‌

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here