सदस्यता

0
121

आर्यवीर दल के उद्देश्य के प्रति आस्था रखने वाला प्रत्येक व्यक्ति इसमें नियमानुसार
प्रवेश लेकर कार्य कर सकता है। आर्य वीरों को निम्नलिखित आधार पर वर्गीकृत किया जाता है-

दीक्षित आर्यवीर : जिन्होंने आर्यवीर दल के प्रशिक्षण शिविर में यज्ञाग्नि के सामने
दीक्षा लेकर आजीवन दल के अनुशासन में रहकर कार्य करने की प्रतिज्ञा की

है।

  1. वृत्ति आर्यवीर : जो प्रतिदिन आर्यवीर दल की शाखा में नियमपूर्वक सम्मिलित

होते हैं।

  1. स्वयंसेवक आर्यवीरः जिन्होंने आपदा-काल में आर्यवीर दल द्वारा चलाए जाने

वाले संगठित राहत अभियानों में भाग लेने का प्रण और प्रशिक्षण लिया है।
साधारण आर्यवीर : अन्य सभी सहयोगी सज्जन आर्यवीर दल के साधारण
सदस्य होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here