1984 से चल रही है आर्य वीर दल की गतिविधियां टंकारा

0
21

*नमस्ते* जी आज टंकारा के लिए गौरव की बात है की आर्य वीर दल का 39 वाँ स्थापना दिन मनाया जा रहा है । *टंकारा में आर्यवीर दल की स्थापना 11 जून 1984 में* आर्य वीर दल धांगध्रा के सहयोग से चली हुई आज अच्छी तरीके से आर्य वीर दल का कार्य टंकारा में हो रहा है अनेक प्रकार की सेवा कार्य में हमेशा आर्य वीर दल अग्रसर रहा चाहे वह तन से करनी हो चाहे वह धन से करनी हो चाहे वह मन से करनी हो टंकारा के प्रत्येक आर्यवीर हमेशा सेवा के कार्य में अग्रसर रहते हैं और सभी के विचार भी इतने अच्छे हैं कि *महर्षि दयानंद का सपनों को पूरा करने के लिए वह हमेशा तत्पर रहते हैं* आर्य समाज टंकारा में आर्य वीर दल के कारण अच्छे-अच्छे कार्यकर्ता,आर्य सदस्य मिलते रहते हैं और सभी इतने विनम्र और आर्य समाज के प्रति पूर्ण श्रद्धावन है, साथ ही साथ प्रत्येक अपनी अपनी वयकक्षा के अनुसार आज भी हमारे पास रहते हैं जिस जिस की जितनी योग्यता होती है उतना उतना कार्य हमेशा करते रहते हैं और बौद्धिक स्तर भी उनका अच्छा रहता है क्योंकि प्रत्येक दिन *दैनिक यज्ञ* उसके निर्माण कार्य के लिए सबसे अच्छा साधन है और साथ में प्रत्येक शनिवार को लगने वाली *वैदिक पाठशाला* सैद्धांतिक और नीतिमत्ता का ज्ञान देने में सबसे उपयोगी साबित हुआ है इसके कारण आज जहां पर भी आप सभी आर्य जन देखते होंगे शिविर लगती हैं उसमें सफलता भी अच्छी तरीके से टंकारा के आर्यवीर प्राप्त करते हैं , तो आज उसी का स्थापना दिन है उसका हमें गौरव है हम सब मिलकर इस आर्य वीर दल की गतिविधि को और आगे बढ़ाएं ताकि *कृण्वंतो विश्वमार्यम्* का सपना हमारा पूर्णा हो सके मैं पुनः सभी आर्य जनों शुभकामनाएं देता हूं और कल यानी कि *रविवार 12 जून को हमारा विशेष कार्यक्रम होगा आप सभी सादर आमंत्रित हैं* धन्यवाद नमस्ते

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here