चरित्र निर्माण एवं संस्कार शिविर बालिकाओं के लिए

0
116

॥ ओ३म् ॥

आ नो भद्रा क्रतवो यन्तु विश्वतः (ऋग्वेद 1/891)

हम सभी दिशाओं से कल्याणकारी विचार प्राप्त करें।

SUMMER CAMP

Personality Development Camp

चरित्र निर्माण एवं संस्कार शिविर

व्यक्तित्व विकास-शारीरिक-बौद्धिक-आत्मिक-सामाजिक

12 से अधिक वर्ष की बालिकाओं के लिए

16 जून से 23 जून 2024 स्थान-सेन्ट जे.पी. कॉन्वेन्ट पब्लिक स्कूल टिक्कमपुर, सुल्तानपुर, लक्सर, हरिद्वार

शुल्क मात्र 200/- (8 दिन के लिए)

॥ ओ३म् ॥

आदरणीय बन्धुवर,

व्यक्ति का आचरण ही उसके जीवन की दिशा एवं दशा तय करने का आधार बनता है। उसका आचरण ही उसके पारिवारिक वातावरण में प्रेम, सहयोग, सम्मान, कर्त्तव्य एवं वैचारिक सामन्जस्य स्थापित कर सकता है। यह आचरण व्यक्ति के संस्कारों पर आधारित स्वमेव प्रस्फुटित होने वाली एक सतत प्रक्रिया होती है। सामान्यतः, बच्चों में बचपन से पड़े बुरे संस्कार/कुसंगत, दुर्व्यसन ही आगे चलकर परिवार-माता-पिता के लिए दुःख का कारण बनते हैं। उत्तम संस्कार ही व्यक्ति के अच्छे जीवन की प्रेरणा के आधार होते हैं। वैदिक शिक्षा से संस्कारों को प्रत्यारोपित करने का उत्तम काल, बाल्यकाल ही होता है। अतः पूर्व वर्षों की भाँति इस वर्ष भी बच्चों को संस्कारित करने एवं उनका सर्वांगीण विकास (अर्थात् शारीरिक, आत्मिक, सामाजिक एवं बौद्धिक) करने हेतु ग्रीष्मकालीन संस्कार शिविर का आयोजन किया जा रहा है।

बालिकाओं के लिए

लाठी

तलवार

शूटिंग

तीरंदाजी

मार्शल आर्ट

यज्ञ

व्यवहार शिक्षा

योग

https://youtu.be/04qVozHOa-0?si=WXEsXTuzCjUN7Xzm

प्राणायाम

संस्कार शिक्षा

प्रश्नोत्तरी

नैतिक शिक्षा

दैनिक जीवन शैली

आहार शैली

बुद्धिवर्धक उपाय

ध्यान

लाल सिंह आर्य संयोजक

आचार्या ममता आर्या अध्यक्ष

आचार्य विक्रान्त आर्य सचिव

डॉ. मनुदेव बन्धु कोषाध्यक्ष

शिक्षक-आचार्य विक्रान्त आर्य (प्रधान व्यायाम शिक्षा), ऋतु आर्या,, खुशी आर्या, श्वेता आर्या, शालू आर्या, वंदना आर्या, विशाखा आर्या

शिविर में प्रवेश के लिए नियम

  1. शिविर में भाग लेने के लिए शिविरार्थी की आयु 12 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  2. बालिकाओं को शिविर में प्रशिक्षण महिला शिक्षिकाओं द्वारा ही दिया जायेगा।
  3. शिविर में आवास एवं भोजन व्यवस्था निःशुल्क होगी तथा भोजन के लिए बर्तन, थाली, कटोरी, गिलास व चम्मच साथ लायें।
  4. शिविरार्थी अपनी वेशभूषा सफेद कुर्ता सलवार, लोवर, टीशर्ट, कोई भी दो वस्त्र (पहनने के), एक बेडशीट व पी.टी. शूज साथ लायें।
  5. कोई कीमती वस्तु जैसे-आभूषण आदि साथ न लायें। शिविर में अनुशासन का पालन अनिवार्य होगा।
  6. सभी शिविरार्थी 16 जून को शाम 3 बजे तक आवश्यक सामान सहित शिविर स्थल सेन्ट जे.पी. कॉन्वेन्ट पब्लिक स्कूल, टिक्कमपुर, सुल्तानपुर, हरिद्वार में पहुंच जाने चाहिए।
  7. शिविर में सम्पर्क हेतु मोबाईल नं. 9411553312, 8445539704, 9359355161

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here